Cryptocurrency क्या हैं | Cryptocurrency के कितने प्रकार होते हैं?

दोस्तों आज के समय में लगभग हर व्यक्ति को Cryptocurrency के बारे के सुनने को मिल रहा
हैं जिसकी वजह से बहुत कम लोगों को इसकी सही जानकारी हैं इसलिए आज की पोस्ट जिसका नाम
Cryptocurrency क्या हैं | Cryptocurrency के कितने प्रकार होते हैं?

इस पोस्ट में आपको Cryptocurrency क्या होती हैं से लेकर Cryptocurrency भारत में
गैरकानूनी हैं या नहीं इसके बारे में भी बात करेंगे।

Cryptocurrency किसी भी प्रकार का कैश या नगद पैसे नहीं होते हैं यह पूरी तरह डिजिटल होते हैं
जिन्हे आप अपने हाथो से छू नहीं सकते, हालांकि आप डिजिटल तौर पर अपने मोबाइल में यह डिजिटल मनी रख सकते हो।

अब हालांकि कई देशों में आप इस डिजिटल पैसे को कैश या नगद में बदल सकते हो लेकिन यह
नियम अब तक भारत में देखने को नहीं मिला हैं।

Cryptocurrency के बारे में ज्यादातर लोगों को सही जानकारी नहीं हैं जिसके वजह से कई लोग
पैसे का लालच देकर उनसे पैसा ऐंठ लेते हैं।

इसी वजह से हमने आज यह पोस्ट लिखने का सोचा, Bitcoin क्या है? Bitcoin कैसे काम करता है?

आज की पोस्ट के Cryptocurrency के कितने प्रकार होते हैं इसके बारे में सटीक जानकारी
मिलेगी, उम्मीद हैं आपको यह पोस्ट पसंद आएगी।

Cryptocurrency क्या हैं?

Cryptocurrency kya hai
Cryptocurrency kya hai

Cryptocurrency के कितने प्रकार होते हैं?

दोस्तों Cryptocurrency क्या होती हैं तथा Cryptocurrency के कितने प्रकार होते हैं यह आपको आगे पता चलेगा, लेकिन कई बार लोग जल्दबाजी में बिटकॉइन या किसी और डिजिटल currency में पैसा लगा देते हैं और जिसके बाद कई बार उन्हें नुकसान भी हो जाता हैं।

अप्रैल 2021 तक लगभग 10,000 से भी ज्यादा Cryptocurrency हैं पूरी दुनिया में जिन्हे लोग इस्तेमाल करते हैं।

चलिए अब बात करते हैं की Cryptocurrency कितने प्रकार की होती है?

Bitcoin

Bitcoin Cryptocurrency की दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे पहला डिजिटल करेंसी हैं, इसके आने के बाद ट्रांजेक्शन करने के तरीके हमेशा हमेशा के लिए बदल चुके हैं।

अगर आप इंटरनेट में रहते तो Bitcoin आज वहां की करेंसी होती और आप उसको कैश की तरह इस्तेमाल कर पाते, हालांकि यह इंटरनेट का कैश हैं और हम इसे देख सकते हैं छू नहीं सकते।

दुनिया में सिर्फ 21 मिलियन Bitcoin ही मौजूद हैं कहने का मतलब हैं की जब इसे Satoshi Nakamoto ने बनाया था तब यह भी पक्का था की यह एक समय के बाद खत्म हो जाएगा।

21 मिलियन bitcoin हैं जिसमे से 18.5 मिलियन bitcoin लोगों के बाद मौजूद हैं और अब सिर्फ
2.2 मिलियन बिटकॉइन ही शेष बचा हैं।

Bitcoin का लगभग 89.346% mined हो चुका हैं और 900 Bitcoin हर रोज mine किए जाते हैं
पूरी दुनिया में, और एक समय आएगा की सारे Bitcoin खत्म हो जाएंगे।

Bitcoin cash

यह bitcoin cash को 2017 में लॉन्च किया था और यह मार्केट में सबसे विश्वसनीय Cryptocurrency में से एक माना जाता हैं।

Original Cryptocurrency का ब्लॉक साइज जहां 8MB होता हैं वही इसकी साइज सिर्फ 1MB हैं जिसकी वजह से प्रोसेसिंग बहुत फास्ट होती हैं।

Litecoin

Litecoin को जब बनाया गया था तब यह मार्केट में बहुत जल्दी पॉपुलर हो गया था और उसका ठीक
वैसा ही काम हैं जैसा Bitcoin का होता हैं।

इसे 2011 में Charlie Lee ने बनाया था जो पहले Google में काम किया करते थे, Litecoin
को बनाने का मकसद यही था की Bitcoin की टेक्नोलॉजी को इंप्रूव किया जाए।

Transaction में टाइम कम लगे और कम चार्ज लगे और जल्द से जल्द transaction बिना किसी
रुकावट के हो जाए इसलिए Litecoin को बनाया गया था।

Ethereum

Ethereum को बिटकॉइन के एक दम विपरीत माना जाता हैं क्योंकि इसका फोकस डिजिटल करेंसी पर उतना नहीं होता हैं जितना यह फोन ऐप पर ध्यान देता है, आप Ethereum को एक app store भी कह सकते हैं।

यह Ethereum किसी भी app में जो बिचौलिए घुस जाते हैं और उसमे कुछ अपनी तरफ से डाल देते हैं ताकि मुनाफा कमा सके, Ethereum इसी काम को रोकता है।

और यह सुनिश्चित करता हैं की जिस app हैं उसका original creator ही उसमे कोई बदलाव
करे, इसलिए Ethereum का इस्तेमाल ज्यादातर आप डेवलपर्स और यूजर्स करेंसी के तौर पर किया जाता हैं।

Ripple

यह भी Cryptocurrency की लिस्ट में आता हैं लेकिन यह blockchain पर आधारित नहीं हैं यह करेंसी सिंगल transaction के लिए उतनी मायने नहीं रखती जितनी यह बड़ी कंपनियों के लिए मायने रखती हैं।

यह bitcoin के मुकाबले हर सेकंड 1,500 लेनदेन को संभालने की क्षमता रखती हैं ऐसा दावा किया जाता हैं।

Stellar

स्टेलर मनी ट्रांसफर पर ध्यान केंद्रित करता है, और इसके नेटवर्क को राष्ट्रीय सीमाओं के पार भी उन्हें तेज और अधिक कुशल बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

इसे 2014 में Ripple के सह-संस्थापक Jed McCaleb द्वारा डिज़ाइन किया गया था और यह Stellar.org नामक एक गैर-लाभकारी संगठन
द्वारा संचालित है।

इसका लक्ष्य विकासशील अर्थव्यवस्थाओं की सहायता करना है जिनके पास पारंपरिक बैंकों और
निवेश के अवसरों तक पहुंच नहीं हो सकती है।

यह अपने स्टेलर नेटवर्क का उपयोग करने के लिए उपयोगकर्ताओं या संस्थानों से शुल्क नहीं लेता है,
और कर-कटौती योग्य सार्वजनिक दान स्वीकार करके परिचालन लागत को कवर करता है।

NEO

इसे चीन में विकसित किया गया हैं और इस Cryptocurrency का ज्यादा फोकस क्रिप्टो मार्केट का खिलाड़ी बनने में हैं।

Cardano

कार्डानो उर्फ ​​ADA का उपयोग डिजिटल फंड भेजने और प्राप्त करने के लिए किया जाता है। यह क्रिप्टोकरेंसी के लिए एक अधिक संतुलित और टिकाऊ पारिस्थितिकी तंत्र होने का दावा करता है, और “वैज्ञानिक दर्शन और अनुसंधान-संचालित दृष्टिकोण” वाला एकमात्र सिक्का है।

इसका मतलब है कि यह वैज्ञानिकों और प्रोग्रामर द्वारा विशेष रूप से कठोर समीक्षा से गुजरता है। इसकी स्थापना चार्ल्स होकिंसन ने की थी, जो एथेरियम के सह-संस्थापक भी हैं।

IOTA

2016 में लॉन्च किया गया IOTA का मतलब इंटरनेट ऑफ थिंग्स एप्लिकेशन है। अधिकांश अन्य ब्लॉकचैन प्रौद्योगिकियों के विपरीत, यह वास्तव में एक ब्लॉक और श्रृंखला के साथ काम नहीं करता है; यह इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) पर स्मार्ट उपकरणों के साथ काम करता है।

इसका उपयोग करने के लिए आपको केवल IOTA लेज़र पर दो अन्य पिछले लेनदेन को सत्यापित
करने की आवश्यकता है, जिसे डायरेक्टेड एसाइक्लिक ग्राफ (DAG) कहा जाता है, लेकिन IOTA निर्माता इसे द टैंगल कहते हैं।

कॉइन सेंट्रल के अनुसार, इसका मतलब है कि उपकरणों को जरूरत पड़ने पर अधिक बिजली, बैंडविड्थ, भंडारण या डेटा खरीदने
में सक्षम होना चाहिए, और उन संसाधनों को तब बेचना चाहिए जब उन्हें उनकी आवश्यकता न हो।

निष्कर्ष

दोस्तों मुझे पूरी उम्मीद हैं आपको आज का आर्टिकल जिसका नाम Cryptocurrency क्या हैं | Cryptocurrency के कितने प्रकार होते हैं? आपको जरूर पसंद और समझ में आया होगा।

अगर आप लोग डिजिटल करेंसी में पैसा लगा रहे हैं तो थोड़ा ध्यान रखिए, डिजिटल करेंसी में पैसा लगाना भीं है तो पहले उसके बारे में अच्छे से जानकारी लीजिए और उसके बाद भी कोई कदम उठाइए।

क्योंकि इसके चक्कर में कई लोगों के लाखो रुपए गवा दिए हैं और सरकार का कोई कंट्रोल नहीं हैं
जिसकी वजह से किसी का कोई पता नहीं लगाया जा सकता हैं।

Hello friends, I am "Rahul" Author & Founder of TechySeizer.in. If I Talking about my education I am in BSC 3rd year. I love knowing things related to technology and teaching others. Just keep supporting our content, we will keep giving you new information :)

Sharing Is Love:

5 thoughts on “Cryptocurrency क्या हैं | Cryptocurrency के कितने प्रकार होते हैं?”

  1. Amazing post, complete knowledgeble post hai yah.

    Reply

Leave a Comment