ICSE Full Form In Hindi | ICSE Board kya hain?

दोस्तों अगर आपको ICSE Full Form In Hindi और ICSE Board kya hain इसके बारे में जानकारी नहीं हैं तो आज आपको हमारी यह पोस्ट जरूर पढ़ना चाहिए इसमें हम आपको बताएंगे की ICSE बोर्ड क्या हैं तथा CBSE Board और ICSE Board में क्या अंतर होता हैं।

दुनिया में शायद ही कोई मां बाप होंगे जो अपने बच्चों को बेहतर एजुकेशन नहीं देना चाहते और बेहतर एजुकेशन के लिए कौन से स्कूल में बच्चे को डालना हैं यह भी सोच समझकर तय किया जाता हैं इसलिए आज की पोस्ट अगर आप एक महिला हैं तो आपको बहुत ध्यान से पढ़ना चाहिए।

अगर शुरुवाती समय से ही बच्चे की पढ़ाई पर सही तरीके से ध्यान दिया जाए तो वो बहुत बड़ा मुकाम हासिल कर सकता हैं, आपको बता दें की ICSE एक प्राइवेट मान्यता वाला बोर्ड हैं मतलब इसे भारत सरकार कंट्रोल नहीं करती हैं।

चलिए अब आज के टॉपिक ICSE Full Form In Hindi तथा ICSE का इतिहास इसे हम समझते हैं मुझे उम्मीद हैं आपको यह पोस्ट आज कुछ नया सिखाएगी।

ICSE Full Form In Hindi

दोस्तों ICSE का फुल फॉर्म “Indian Certificate of Secondary Education” होता हैं यह एक प्राइवेट बोर्ड को सिर्फ इंग्लिश मीडियम में संचालित किया जाता हैं तथा इसमें होने वाली परीक्षाएं भी सिर्फ इंग्लिश में ही होती हैं। ICSE बोर्ड का हेडक्वार्टर नई दिल्ली में स्तिथ हैं।

ICSE Board क्या हैं?

दोस्तों ICSE एक प्राइवेट शैक्षिक बोर्ड हैं जिसका उद्देश्य भारत की सामान्य एजुकेशन को English Medium में बनाना हैं तथा परीक्षाएं इंग्लिश में कराना हैं। ICSE बोर्ड द्वारा 10वी तथा 12वी के लिए परीक्षा होती हैं जिसे CISCE (Council for the Indian School Certificate Examination) द्वारा आयोजित किया जाता हैं।

ICSE बोर्ड इसलिए भी महत्वपूर्ण हो जाता हैं क्योंकि सन 1986 में नई शिक्षा प्रणाली के अनुसार भारत में होने वाले परीक्षाओं को इंग्लिश में करवाने का प्रावधान रखा गया तथा ICSE बोर्ड को परीक्षाएं इंग्लिश में करवाने का विशेषाधिकार दिया गया।

दोस्तों ICSE बोर्ड की शिक्षण प्रणाली भारत में CBSE बोर्ड और अलग अलग राज्यों में होने वाले राज्य बोर्ड से काफी अलग हैं क्योंकि इसमें इंग्लिश के 2 पेपर होते हैं तथा सामान्य से ज्यादा पेपर ICSE बोर्ड में होते हैं।

ICSE बोर्ड का भारत में इंग्लिश मीडियम शिक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने तथा शिक्षा को बेहतर करना हैं इसलिए यह बोर्ड बाकी बोर्ड से काफी अलग माना जाता हैं। चलिए अब समझते हैं की CISCE क्या हैं?

CISCE Full Form In Hindi? CISCE kya hain?

दोस्तों CISCE का फुल फॉर्म “The Council for the Indian School Certificate Examination” होता हैं तथा CISCE बोर्ड ICSE के तरफ से होने वाली 10वी तथा 12 वी की परीक्षाओं को आयोजित करने का काम करता हैं।

CISCE एक NGO संस्था हैं जो गैर सरकारी बोर्ड हैं जो ICSE की परीक्षाओं को English में तथा उसकी परीक्षाओं को आयोजित करने का काम करती हैं।

इनकी official website यह हैं – cisce.org

ICSE Board की शुरुवात कब हुई?

ICSE बोर्ड की स्थापना सन 1958 में Cambridge University द्वारा भारत मे एक परीक्षा आयोजित करने और उसका प्रशासन करने के लिए की गई, इसके बाद 1967 में इसे Society Registration Act के अंतर्गत दर्ज किया गया।

दोस्तों सन 1986 में नई शिक्षा नीति की सिफारिश को पूरा करने के लिए इस बोर्ड का जन्म हुआ, इस बोर्ड का यही लक्ष्य हैं की सामान्य परीक्षाएं इंग्लिश में हो तथा भारत की schooling भी इंग्लिश मीडियम में हो।

ICSE के affiliated school के रेगुलर छात्र ही इस परीक्षा में हिस्सा ले सकते हैं और बाकी स्कूल के छात्र यह परीक्षा नहीं दे सकते, इस बोर्ड का सिलेबस भी काफी अलग होता हैं।

ICSE को 3 भागों में बांटा गया हैं जैसे पहले नंबर पर ऐसे विषय आते हैं जो विद्यार्थियों को पढ़ना आवश्यक माने वाले हैं जिनमे English, History, Civics, Geography और भारतीय भाषाएं शामिल हैं। भारतीय भाषा हर राज्य की अलग अलग हैं इसलिए राज्य के हिसाब से सिलेबस तैयार किया जाता हैं।

इसके बाद Maths, Science, Environment, Computer Science आदि विषय होते हैं तथा उसके बाद आखिर में आपको Computer Application, Yog, Technical Drawing आदि विषयों से किसी एक को चुनना होता हैं।

ICSE Board का सिलेबस काफी बड़ा माना जाता हैं क्योंकि इस बोर्ड का मुख्य उद्देश्य बच्चे के संपूर्ण विकास को पूरा करना हैं, इसी वजह से आज के माता पिता जो अपने बच्चों को एक उज्जवल भविष्य और बहुत अच्छी एजुकेशन देना चाहते हैं वे अपने बच्चो को ICSE बोर्ड में बच्चों को भेजते हैं।

ICSE Board और CBSE Board में अंतर?

जैसा की मैने आपको बताया की ICSE बोर्ड भारत में बाकी बोर्ड से काफी अलग हैं इसमें सिलेबस भी ज्यादा हैं तथा पढ़ाई सिर्फ इंग्लिश मीडियम में ही होती हैं।

1. सबसे पहले तो ICSE में आपको सिर्फ इंग्लिश मीडियम मिलता हैं वल्कि CBSE Board में हिंदी तथा इंग्लिश दोनो मीडियम का विकल्प मिलता हैं आप अपनी सहूलियत के अनुसार मीडियम का चयन कर सकते हैं।

2. ICSE बोर्ड में भाषाओं, कला तथा अन्य विषयों पर ज्यादा फोकस किया जाता हैं जबकि CBSE और राज्य बोर्ड में Maths, Science, Physics जैसे विषयों पर ज्यादा ध्यान दिया जाता हैं।

3. भारत में सबसे ज्यादा स्कूल CBSE बोर्ड के हैं और इसके बाद ICSE बोर्ड के हैं।

4. दूसरे बोर्ड में ज्यादातर थ्योरी को महत्व दिया जाता हैं जबकि ICSE बोर्ड में प्रैक्टिकल पर ध्यान दिया जाता हैं।

5. ICSE में विद्यार्थी भी कम मात्रा में होते हैं ताकि एक शिक्षक हर विद्यार्थी पर पूरा ध्यान दे सके। आईसीएसई में हर विद्यार्थी को पाठ्यक्रम के अलावा उसके पसंद के कौशल सीखने के लिए प्रोत्साहित किया जाता हैं।

आईसीएसई में पढ़ाने का तरीका रचनात्मक हैं जो हर विद्यार्थी की क्षमता को पहचान सके।

6. यह बोर्ड दूसरे बोर्ड से थोड़ा मुश्किल भी हैं। आईसीएसई बोर्ड की परीक्षा हर साल फरवरी और मार्च महीने के दौरान होती हैं और मई-जून तक उसके परिणाम आते हैं।

सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएँ आमतौर पर मार्च महीने में आयोजित की जाती हैं।

ICSE Board से जुड़े FAQs

1. ICSE बोर्ड क्या हैं?

दोस्तों ICSE Board एक प्राइवेट बोर्ड हैं जो भारत की एजुकेशन को इंग्लिश मीडियम में करवाने का उद्देश्य रखता हैं यह CBSE बोर्ड की तरह हैं लेकिन इसका काम करने का तरीका तथा पढ़ाई CBSE और राज्य बोर्ड से बहुत अलग हैं।

2. ICSE बोर्ड का क्या मतलब हैं?

ICSE बोर्ड का फुल फॉर्म “Indian Certificate of Secondary Education” होता हैं यह एक प्राइवेट बोर्ड हैं।

3. भारत में कितने बोर्ड होते हैं?

दोस्तों भारत में खासकर 3 बोर्ड ज्यादा प्रचलित हैं पहला ICSE बोर्ड दूसरा CBSE और और तीसरा राज्य बोर्ड जो हर राज्य का अलग अलग होता हैं।

4. ICSE बोर्ड की स्थापना कब हुई?

दोस्तों ICSE बोर्ड की स्थापना सन 1956 में हुई इसे भारत में आंग्ल भारतीय एजुकेशन के उद्देश्य से किया गया था।

5. CBSE और ICSE बोर्ड में क्या अंतर हैं?

CBSE बोर्ड में आपको हिंदी और इंग्लिश मीडियम मिलता हैं जबकि ICSE बोर्ड में सिर्फ इंग्लिश मीडियम देखने को मिलता हैं

CBSE बोर्ड में थ्योरी पर ज्यादा महत्व दिया जाता हैं जबकि ICSE बोर्ड में प्रैक्टिकल पर ध्यान दिया जाता हैं।

निष्कर्ष?

दोस्तों इस पोस्ट में हमने आपको बताया की ICSE Full Form In Hindi | ICSE Board kya hain तथा CISCE Full Form In Hindi। मुझे उम्मीद हैं आपको यह पढ़कर ICSE Board के बारे में जानकारी प्राप्त हो गई होगी।

अगर आपको इस पोस्ट से जुड़े कोई सवाल हैं तो हमसे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर पूछे, इस पोस्ट को शेयर भी जरूर करें। हमारे ब्लॉग के अन्य पोस्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

अन्य पोस्ट पढ़िए –

1K Meaning In Hindi | 1M Meaning In Hindi | 1K, 1M क्या हैं?

How to Download Photos from Google Photos In Hindi | Photo Download in Hindi

ChemiCloud Review In Hindi | Honest ChemiCloud’s Review In Hindi

Sigma Male Rule Meaning In Hindi | Sigma Male Rule kya hai?

BSc ke baad kya kare | BSc के बाद कैरियर ऑप्शन?

Hello friends, I am "Rahul" Author & Founder of TechySeizer.in. If I Talking about my education I am in BSC 3rd year. I love knowing things related to technology and teaching others. Just keep supporting our content, we will keep giving you new information :)

Sharing Is Love:

1 thought on “ICSE Full Form In Hindi | ICSE Board kya hain?”

Comments are closed.