[2021] News Full Form In Hindi | न्यूज़ फुल फॉर्म इन हिंदी?

दोस्तों हमारे देश और पूरी दुनिया में हालात सही नहीं चल रहे हैं और इसकी खबर हमें news से ही
मिलती हैं लेकिन क्या आपने कभी यह सोचा News Full Form In Hindi | न्यूज़ फुल फॉर्म इन हिंदी।

बहुत से लोग अब ये सोचेंगे की News ka full form भी होता हैं क्या, न्यूज चाहे देश की हो
या फिर किसी घटना की आज के समय में दुनिया से जुड़े रहना जरूरी हो गया है।

ज्यादातर लोग मॉर्निंग में और रात के समय देश और दुनिया की खबर देखना पसंद करते हैं और
इसी वजह से News Channels की TRP भी अच्छी बढ़ जाती है।

न्यूज आप Tv से देखो या फिर किसी न्यूजपेपर से पढ़ें लेकिन News Full Form In Hindi |
न्यूज़ फुल फॉर्म इन हिंदी
, इसके बारे में आपको जानकारी होनी ही चाहिए।

News Full Form In Hindi | न्यूज़ फुल फॉर्म इन हिंदी

वैसे तो न्यूज का फुल फॉर्म कोई एक नहीं होता है कहने का मतलब यह हैं की न्यूज के 2-3 फुल फॉर्म हो सकते है और उन्हें हम आपको एक एक करके बताएंगे। न्यूज को हिंदी में समाचार कहते है।

N – North(नॉर्थ)
E – East(ईस्ट)
W – West(वेस्ट)
S – South (साउथ)

न्यूज का फुल फॉर्म ऐसा इसलिए होता हैं क्योंकि न्यूज हर राज्य हर ज़िले तथा सब जगह की खबरें एक दम समान रूप से दिखाई जाती हैं।

News के अन्य फुल फॉर्म

News Full Form In Hindi

जैसे हमने आपको बताया था की इसके 2-3 फुल फॉर्म हो सकते है, चलिए अब आपको उनके बारे में विस्तार से बताते हैं।

News ka full form “Network Extensible Window System” भी होता है।

यह नेटवर्क एक्सटेंसिबल विंडो सिस्टम को सन 1980 के दशक में माइक्रोसिस्टम्स द्वारा शुरू किया गया था जो की मध्य में विकसित हुआ।

न्यूज का फुल फॉर्म “Nature Environment & Wildlife Society” भी होता है।

भारत में News की शुरुवात कब से हुई।

भारत में न्यूज मीडिया बहुत बड़े पैमाने पर communication करती हैं जिसमे TV, रेडियो, न्यूजपेपर, मैगजीन, Internet-based(वेबसाइट), और सिनेमा सामिल हैं।

इंडियन मीडिया सन 1800 से ही शुरू हो गई थी और पेपर पर न्यूज प्रिंट करने की शुरुवात सन
1780 से हो चुकी थी।

रेडियो वाणी की शुरुवात सन 1927 से शुरू हुई, इसी वजह से इंडियन मीडिया को दुनिया का सबसे
बड़ा और सबसे पुरानी मीडिया Broadcasting भी कहा जाता हैं।

बहुत सारे मीडिया बहुत बड़े पैमाने पर news broadcast करते हैं कई मीडिया तो देश के बाहर
तक broadcasting करते हैं, जिसमे Zee news मुख्य रूप से शामिल हैं।

न्यूज मीडिया का इतिहास

जैसा मैने आपको बताया कि भारत में न्यूज की शुरुवात 1800 से ही हो गई थी, 31 मार्च 2018 आते आते 100,000 से भी ज्यादा न्यूज publications register किए गए।

इंडियन न्यूज मीडिया पर हुई एक स्टडी के मुताबिक भारत का न्यूजपेपर मार्केट दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मार्केट हैं।

इंडिया के पास 1,600 से भी ज्यादा satellite Channels हैं जिसमे 400 से भी ज्यादा सिर्फ न्यूज चैनल हैं।

इंडिया का न्यूजपेपर मार्केट इतना बड़ा हैं की रोज 1 करोड़ से भी ज्यादा न्यूजपेपर की कॉपी बिक जाती हैं। सन 1780 में “Hicky’s Bengal Gazette” ने भारत का पहला न्यूजपेपर पब्लिश किया था।

अभी इस वक्त आपको लगभग हर भाषा में न्यूज चैनल आसानी से मिल जायेंगे हिंदी से लेकर इंग्लिश तक हर तरह के चैनल आसानी से मौजूद हैं।

भारत में Broadcasting Service

हालांकि रेडियो कार्यक्रम की शुरुवात तो भारत में 1927 से ही हो चुकी थी लेकिन इसके 3 साल बाद सन 1930 में राज्यों ने इसे एक जिम्मेदारी की तरह लिया और रेडियो की शुरुवात हुई।

इसके बाद सन 1937 में इसे “All India Radio” नाम दिया गया जो 1957 में चलकर
“आकाशवाणी” में परिवर्तित हो गया। उम्मीद हैं News Full Form In Hindi और भारत में न्यूज की शुरुवात कैसे हुई यह आपको पता चल
गया होगा।

न्यूज चैनल के प्रकार?

कई बार आपने देखा होगा की किसी विशेष राज्य का लिए एक अलग चैनल होता हैं जो सिर्फ उसी
राज्य के खबरें हमें दिखाता हैं, कई चैनल विशेष भाषा में ही खबरें दिखाते हैं जैसे मराठी, बंगाली आदि।

1. Local News

सबसे पहले जब भारत के न्यूज चैनल की शुरुवात हुईं थी तब सिर्फ एक चैनल था “दूरदर्शन” और यह चैनल भारत में हो रही हर एक न्यूज को कवर करता था।

लेकिन धीरे धीरे प्राइवेट चैनल्स भी आ गए और जिसके कारण न्यूज की Broadcasting लोकल
शहर या गांव तक भी पहुंचने लगी।

आपने देखा होगा की न्यूज में कभी कभी आपके इलाके की या फिर जिले की न्यूज तथा घटनाएं
दिखाईं जाती है और इसे ही लोकल न्यूज कहते हैं।

2. National News

नेशनल न्यूज का चलन भारत में पहले से ही था, इसमें आपको देश में हो रही सभी तरह की खबरे देखने को मिलती है।

सुरक्षा से जुड़ी न्यूज हो गए फिर खेल से या फिर अर्थव्यवस्था, विज्ञान आदि की न्यूज इसमें देखने को मिलती है। इसे हम National News कहते हैं।

3. International News

इंटरनेशनल न्यूज का चलन भी अब बढ़ने लगा हैं लेकिन शुरुवाती समय में नेशनल न्यूज में ही इंटरनेशनल खबरें दिखाई जाती थी।

लेकिन अब इंटरनेशनल खबरों के लिए कई न्यूज मीडिया ने अलग से चैनल बना लिए है जैसे Zee
Media का इंटरनेशनल चैनल “WION” हैं।

हालंकि भारत में ज्यादातर आपको नेशनल tv पर ही इंटरनेशन खबरें भी दिखा दी जाती हैं क्योंकि
कुछ खबरों के लिए एक अलग चैनल नहीं बना सकते।

निष्कर्ष

उम्मीद है आज के इस आर्टिकल जिसका नाम हैं News Full Form In Hindi | न्यूज़ फुल फॉर्म इन हिंदी इससे आपको कुछ नई बातें सीखने को मिली होगी।

न्यूज का फुल फॉर्म ज्यादातर लोग सोचते नहीं है लेकिन इसका भी फुल फॉर्म होता हैं। न्यूज चाहे
आप tv पर देखो या फिर इंटरनेट से लेकिन सबसे जरूरी हैं खबरों से अपडेट रहना।

दोस्तों अगर आपको इस पोस्ट से कुछ सीखने को मिला हैं तो इस पोस्ट को जिसका नाम News
Full Form In Hindi
हैं इसे अपने दोस्तों तक जरूर भेजें।

Hello friends, I am "Rahul" Author & Founder of TechySeizer.in. If I Talking about my education I am in BSC 3rd year. I love knowing things related to technology and teaching others. Just keep supporting our content, we will keep giving you new information :)

Sharing Is Love:

2 thoughts on “[2021] News Full Form In Hindi | न्यूज़ फुल फॉर्म इन हिंदी?”

  1. sir, aapki har ek post me bhaut knowledge hota hai.

    thanks

    Reply

Leave a Comment