BAMS Full Form In Hindi | BAMS Course kaise kare?

दोस्तों आज आपको इस पोस्ट के माध्यम से BAMS Full Form In Hindi | BAMS Course kaise kare? इसके बारे में बहुत बारीकी से जानने को मिलेगा।

भारत ही नहीं वल्कि दुनिया के हर देश में डॉक्टर्स को एक विशेष दर्जा दिया जाता हैं और भारत में
तो यह ज्यादा होता हैं और इसके साथ ही हमारी पद्धति प्राचीन हैं जिसमें आयुर्वेद ही काम में लाया
जाता था।

इसलिए आज भी दुनिया भी आयुर्वेद का मुकाबला कोई भी अंग्रेजी दवाई नहीं कर सकती और अगर
आपको आयुर्वेद के क्षेत्र में डॉक्टर बनना हैं तो आपके लिए यह कोर्स सबसे बढ़िया होगा।

दोस्तों आज के समय में दुनिया की बड़ी बड़ी थेरेपी में अब आयुर्वेद को भी शामिल किया जाने लगा हैं
यह इसलिए क्योंकि आयुर्वेद द्वारा न केवल बीमारी को ठीक वल्कि बीमारी को जड़ से भी खत्म कर
दिया जाता हैं।

BAMS Full Form In Hindi

BAMS Ka full form “Bachelor Of Ayurveda Medicine & Surgery” होता हैं और इसका हिंदी के नाम BAMS Full Form In Hindi “बैचलर और आयुर्वेद मेडिसिन एंड सर्जरी” होता हैं।

यह कोर्स ऐसे विद्यार्थियों के लिए सर्वश्रेष्ठ हैं जो क्लास 12 के बाद ही आयुर्वेद के क्षेत्र में जाना चाहते हैं, BAMS का कोर्स साढ़े पांच साल का होता हैं जिसमे एक साल की इंटर्नशिप भी शामिल होती हैं।

BAMS Course क्या हैं?

यह एक अंडरग्रैजुएट डिग्री हैं जो स्टूडेंट्स को आयुर्वेद के सभी अवधारणों से परिचित करवाती हैं और फिर उन्हीं कांसेप्ट का इस्तेमाल करके छात्र मरीजों का इलाज़ कर पाते हैं।

BAMS में आयुर्वेद को मॉडर्न और आधुनिक दवाओं की अवधारणा के साथ शामिल किया गया हैं ताकि स्टूडेंट्स आयुर्वेद और मॉडर्न दवाइयों का ज्ञान भी एक ही कोर्स में ले सके।

भारत में आयुर्वेद चिकित्सा की सबसे पुरानी प्रणालियों में से एक हैं जिसे वैदिक काल से
इस्तेमाल किया जा रहा हैं, यह जड़ी-बूटियों के उपचारात्मक गुणों पर आधारित है और इसकी दवाएं उनमें मौजूद प्राकृतिक तत्वों के लिए जानी
जाती हैं।

आयुर्वेद चिकित्सा न केवल बीमारी ठीक करती हैं वल्कि इसके साथ ही उस बीमारी को जड़ से खत्म
करने में भी कारगर साबित होती हैं और उस आवृत्ति को भी कल करती हैं जिसके साथ मानव
शरीर में बीमारियां प्रवेश करती हैं।

इसलिए आज दुनिया आयुर्वेद को समझने और स्वीकार करने लगा हैं यहां तक कि विश्व स्वास्थ
संगठन ने भी आयुर्वेद जैसी पारंपरिक चिकित्सा प्रणालियों को बढ़ावा देने के लिए विश्वव्यापी मंच भी प्रदान किया हैं।

इसी वजह से बैचलर और आयुर्वेद मेडिसिन एंड सर्जरी की आज के समय में डिमांड बढ़ती जा रही
हैं जिसकी वजह से 12 के बाद में छात्र इसकी तैयारी करने लगते हैं।

BAMS Course कैसे करें?

दोस्तों BAMS Full Form In Hindi इसके बाद अब आपको बताते हैं की अगर आपको BAMS Course करना हैं तो आपको क्या करना चाहिए।

दोस्तों आज यह कोर्स क्लास 12 पास करने के बाद ही कर सकते हैं, यह कोर्स 5 साल और 6 महीने का होता हैं जिसमे इंटर्नशिप भी शामिल हैं।

चलिए अब जान लेते हैं की BAMS Course के लिए eligibility क्या क्या होना चाहिए?

BAMS Course की Eligibility?

यह कोर्स करने से पहले कुछ बातों का आपको ध्यान रखना चाहिए, इसलिए इस प्वाइंट को बहुत ध्यान से पढ़िए।

यह कोर्स करने के लिए सबसे जरूरी यह हैं की स्टूडेंट्स को मेडिकल साइंस में 12th पास होना और 50% से ज्यादा स्कोर होना जरूरी हैं।

BAMS Course के लिए मिनिमम उम्र लिमिट 17 हैं यह आपको ध्यान रखना चाहिए। यह कोर्स करने
के लिए कॉलेज में एडमिशन के लिए आपको एक एंट्रेंस एग्जाम भी देना जरूरी हैं और उसमे आपको पास होना जरूरी हैं।

इस एंट्रेंस एग्जाम का नाम NEET हैं यह एग्जाम क्लास 12वी के आधार पर ही होती हैं।

BAMS admission Process?

जैसा मैने आपको बताया की कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले आपको एंट्रेंस एग्जाम देना जरूरी हैं जिसका नाम NEET
हैं बिना इस परीक्षा को पास किए आप यह कोर्स नहीं कर सकते हैं।

NEET का फुल फॉर्म “National Eligibility Reduced Entrance Test” होता हैं। ऐसे स्टूडेंट्स जो NEET परीक्षा में अच्छा स्कोर करते
हैं वो MBBS कोर्स की तरफ जा सकते हैं।

NEET की परीक्षा देने के बाद आपको counseling प्रोसेस से भी गुजरना होता हैं और यह आपके स्कोर पर निर्भर
करता हैं की आपको कौन सा कॉलेज मिलेगा।

क्या BAMS कोर्स के लिए NEET परीक्षा जरूरी हैं?

Yes!! अगर आलको आयुर्वेद में आगे पढ़ाई या काम करना हैं तो आपको NEET की परीक्षा देना बहुत जरूरी हैं बिना इसके आप BAMS Course नहीं कर सकते।

अगर आप BAMS Course में एडमिशन लेना चाहते हैं तो NEET परीक्षा में बहुत अच्छा स्कोर करें क्योंकि आज कल cut off बहुत ज्यादा होता हैं जिसकी वजह से कई लोगों को यह परीक्षा देने के बाद भी एडमिशन नहीं मिलता।

BAMS Course में क्या सीखते हैं?

यह साढ़े पांच साल का लंबा कोर्स होता हैं जिसे 3 पार्ट्स में बांटा जाता हैं जिसमे इंटर्नशिप भी शामिल होती हैं।

पहले ईयर में स्टूडेंट्स को आयुर्वेद का इतिहास, बेसिक प्रिंसिपल, और आयुर्वेद की फिजियोलॉजी से परिचित कराया जाता हैं।

सेकंड ईयर में नीचे दिए गए विषय पढ़ाए जाते हैं,

1. Poison Knowledge
2. Drugs
3. Ayurvedic Medicine

इसके बाद तीसरे साल में मॉडर्न दवाओं को और बारीकी से समझाया जाता हैं,

  • Modern anatomy
  • Theory of surgery
  • e.n.t.
  • The skin
  • Midwifery
  • Gynecology
  • Child medicine
  • internal Medicine

क्या BAMS और MBBS कोर्स एक हैं?

दोस्तों BAMS Full Form In Hindi इसके बाद बहुत लोगों को यह कन्फ्यूजन रहती हैं की BAMS और MBBS अलग होते हैं एक ही होते हैं।

BAMS का फुल फॉर्म “Bachelor of Ayurveda Medicine and Surgery” होता हैं वही MBBS का फुल फॉर्म “Bachelor of medicine and Bachelor of surgery” होता हैं।

इन दोनो के नाम से ही पता चल रहा हैं की दोनो अलग अलग डिग्री हैं तथा दोनो के काम अलग हैं। दोनो कोर्स से ही डॉक्टर बनते हैं।

अगर आपको आयुर्वेद के क्षेत्र में डॉक्टर बनना हैं तो आपको BAMS करना होगा वही अगर आपको आधुनिक मेडिकल क्षेत्र में डॉक्टर बनना हैं तो आप MBBS करेंगे।

दोनो क्षेत्र के अपने अपने काम हैं एक क्षेत्र आयुर्वेद के साथ उपचार करता हैं और दूसरा क्षेत्र आधुनिक दवाइयों के साथ उपचार करता हैं।

BAMS कोर्स के बाद करियर?

अगर आप आयुर्वेद के क्षेत्र में इंटरेस्टेड हैं तो BAMS कोर्स में क्या कैरियर में इसी भी जरूर जानिए, नीचे हमने आपको इसके बारे में जानकारी दी हैं।

1. BAMS कोर्स करने के बाद आप गवर्नमेंट हॉस्पिटल, आयुर्वेद हॉस्पिटल में डॉक्टर बन सकते हैं।
2. आप जनरल आयुर्वेदिक प्रैक्टिस के लिए भी जा सकते हैं।
3. यह कोर्स करने के बाद आपकी जॉब सालाना 4 से 5 लाख रुपए की लग सकती हैं।
4. आप खुद का क्लिक भी खोल सकते हैं।

Top Colleges For BAMS Course

BAMS Full Form In Hindi इसके बाद अब आपको बताते हैं की यह कोर्स करने के लिए इंडिया में सबसे अच्छे इंस्टीट्यूट कौन से हैं।

1. Rajiv Gandhi University of Health Sciences, Banglore
2. J B Roy Government Medical college, Kolkata
3. Ayurvedic Medical College, Kolhapur
4. Sri Ayurveda College, Nagpur
5. Dayanand Ayurvedic College, Jalandhar
6. National Institute of Ayurveda, Jaipur
7. Bharti Vidyapeeth, Pune
8. Rajiv Gandhi Government Ayurvedic College, Kangra
9. Gujarat Ayurveda University, Jamnagar
10. Government Ayurvedic College, Lucknow

निष्कर्ष

दोस्तों इस पोस्ट की मदद से मैने आपको बताया की BAMS Full Form In Hindi | BAMS Course kaise kare? मुझे पूरी उम्मीद हैं आज की इस पोस्ट से आपको आज कुछ नया जरूर सीखने को मिल होगा।

मैने BAMS के बारे में लगभग सब जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से आपको बता दी हैं उम्मीद हैं यह आर्टिकल आपके बेहद काम आएगा।

अगर आपके इस पोस्ट से जुड़े कोई सवाल या सुझाव हैं तो आप हमे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर शेयर करें हमे आपकी मदद करने में खुशी होगी, अंत तक पोस्ट पढ़ने के लिए आप बहुत बहुत धन्यवाद।

Hello friends, I am "Rahul" Author & Founder of TechySeizer.in. If I Talking about my education I am in BSC 3rd year. I love knowing things related to technology and teaching others. Just keep supporting our content, we will keep giving you new information :)

Sharing Is Love:

Leave a Comment