Server क्या है ? और कैसे काम करता है ?

क्या आपको पता है की Server क्या होता है. और कैसे काम करता है ? दोस्तों आप चाहे Students
हो या आप कहीं जॉब करते हो आपने Internet का यूज़ तोह जरुर किया होगा तोह आपने सर्वर का नाम
तोह सुना ही होगा अगर नही सुना तोह चलिए आपको अभी याद दिलाते है.

जैसे अगर आप स्टूडेंट्स होंगे तोह आप एग्जाम भी देते है और उसका रिजल्ट भी आता है. और जब
रिजल्ट आता है जब वोह साईट खुलती नही है वहां लिखा होता है Server is too busy या फिर
बहुत देर तक वह वेबसाइट खुलती ही नही. इससे आपको भी पता चल जाता है की एक साथ बहुत सारे
लोग आने के कारण ऐसा बता रहा है. अब क्यूंकि रिजल्ट वाले दिन बहुत सारे लोग एक साथ उस साईट
पर आते है और रिजल्ट देखते है इससे उस वेबसाइट का ट्रैफिक अचानक बढ़ जाता है और जिससे सर्वर
डाउन हो जाता है मतलब ढंग से काम नही पर पता . अब तोह आपको याद आ गया होगा की सर्वर क्या है.
इसको एक और उदाहरण से समझते है.

आप बैंक तो जाते ही होंगे और कभी कभी बैंक वाले आपसे बोलते है की आज कोई भी काम नही होगा क्यूंकि
आज लिंक फेल है. या फिर आज बैंक का सर्वर डाउन है. मुझे उम्मीद है अब आपको अच्छे से समझ आ गया
होगा की मैं किस टॉपिक के बारे में बात कर रहा हु..

Server क्या है ?

सर्वर एक ऐसा कंप्यूटर डिवाइस या ऐसा प्रोग्राम होता है जो Information को Users तक पहुचता है. सरल भाषा
में अगर सर्वर को समझाए तो Internet पर जितने भी लोग है उन्हें सर्विस देना होता है. चलिए इसे एक Example से
समझने की कोशिश करते है.

Server क्या है

Image Source:- Pinterest

आप लोग रोज फेसबुक और Instagram का इस्तेमाल तो करते होंगे लेकिन क्या आपने ये सोचा की
हम जो Videos और Photos देखते है वह हमारे फ़ोन में तो नही है फिर कैसे इतनी जल्दी हमें दिखने लगती है ये सब
डेटा कहीं तो स्टोर होता है न जिनको हम Data Center कहते है आप जेसे ही आप विडियो ओपन करते हो तो उनके
सर्वर से होता हुआ वह विडियो आपके उस App तक आ जाता है और आपको दिखने लगता है.

सर्वर एक तरह से कंप्यूटर ही होते है जिनको Web Hosting देने वाली कंपनी इनस्टॉल करती है और आप दुनिया
में कही भी चले जाओ तब भी आपके पास तक आपका डेटा आराम से पहुच जाता है.. सर्वर की कैपेसिटी भी अलग
अलग होती है जेसे की जिस वेबसाइट पर ज्यदा लोग आते है उसको अच्छा और फ़ास्ट काम करने वाला सर्वर
चाहिए जो बहुत स्पीड से काम कर सकें.

अगर आप चाहे तो अपने घर पर अपने कंप्यूटर या फ़ोन से खुद का सर्वर भी बना सकते है लेकिन
आपने देखा होगा की गूगल फेसबुक को आप जब भी ओपन करते हो बिना किसी प्रॉब्लम के वह
आसानी से खुल जाती है क्युकी उनके कंप्यूटर 24*7 मतलब की हमेशा चालू रहते है. अगर आप भी
अपने घर पर इसे बनाना चाहते है तो आपको हमेशा अपना कंप्यूटर या फ़ोन चालू रखना पड़ेगा
और उसमे कभी भी नेट बंद नही होना चाहिए. यही कारण है की आप घर में सर्वर बना सकते.

Server कैसे काम करता है ?

सर्वर कैसे काम करता है इसको एक Example से समझाता हूँ. मान लीजिये आपने गूगल ओपन किया और उसमे
लिखा “TechySeizer.in” तो अब आपकी IP Address से एक Request Generate होती है वह
Request जाती है आपके इन्टरनेट सर्विस देने वाली कंपनी के पास और फिर वहां से वह Request जाती है
उनके सर्वर तक जो भी आपने सर्च किया है, वह उनके सर्वर में चेक होती है अगर वह उनके सर्वर में मिल जाता है
तो तुरंत आपके सामने वह वेबसाइट खुल जाती है. यहाँ पर मैं आपको बता दू की ये सब प्रोसेस Automatic होती है
और इतनी फ़ास्ट होती है की आपको पता ही नही चलता और आपको सिर्फ वेबसाइट दिखती है .

इसके आलावा चाहे आपको मूवी डाउनलोड करना हो या किसी को विडियो कॉल करना हो या किसी को कुछ भेजना हो
वह सब काम सर्वर से ही होता है. जो हमारी द्वारा दी गई request को जल्द से जल्द आप तक पहुचने का काम करती है.
Server जेसे काम करता है उसके बिच में बहुत सी प्रोसेस जुड़ी होती है जैसे ip Address, clients,
domain name, ports और protocols.

Server कितने प्रकार के होते है ?

जैसा आपका काम होता है सर्वर आपको उसी तरह खरीदना पड़ता है जैसे की मान लो आपकी कोई साईट है
जिसपर डेली का बहुत ज्यदा ट्रैफिक आता है तो आपको एक Dedicated Server लेना पड़ेगा क्यूंकि और कोई सर्वर इतने
ट्रैफिक को झेल नही पायेगा. या फिर ऐसा भी होता है की एक ही सर्वर बहुत सारे Task करते है
जैसे की आपकी कोई नई साईट है जिसपर बहुत कम ट्रैफिक आता है तो आपके जेसे ही बहुत लोग एक
ही सर्वर से काम करते है क्यूंकि ट्रैफिक ज्यादा नही आ रहा होता जिससे उस सर्वर पर लोड कम पड़ता है.
चलिए जानते है की सर्वर कितने प्रकार के होते है.

Type Of Servers

Web Servers

इन्टरनेट पर जितनी भी वेबसाइट है वो सभी Web Servers पर स्टोर किया है. वेब सर्वर वेब ब्राउज़र के माध्यम
से हमें वेब पेज दिखाते है. जैसे ही आप chrome या कोई भी ब्राउज़र ओपन करके सर्च करते हो तो
वेब सर्वर तक request जाती है फिर वेब ब्राउज़र के माध्यम से आप तक दिखने लगती है.

Email Server

इस तरह के सर्वर user को ईमेल के द्वारा Message send या Receive करने के काम आते है
जिसमे यूजर का डेटा स्टोर होता है. इसमें बहुत सारी स्पेस मिलती है जिसमे हमारे सारे ईमेल सेव रहते है.

Identity Server

इस तरह से सर्वर जब आप कही लॉग इन करते हो तो आपको Safety और security देते है

FTP Server

FTP का फुल फॉर्म File Transfer Protocol होता है. इस सर्वर का इस्तेमाल अक्सर वेब मास्टर करते है अपनी वेबसाइट
में कुछ भी फाइल अपने कंप्यूटर से अपलोड करने के लिए या फिर वेबसाइट से कुछ भी डाउनलोड करके अपने कंप्यूटर में स्टोर
रखने के लिए इस FTP या फाइल ट्रान्सफर protocol tool का इस्तेमाल किया जाता है.

किसी वेबसाइट से डेटा को ट्रान्सफर करने के लिए इस tool का इस्तेमाल किया जाता है. इन्टरनेट में फ्री में
बहुत सारे सॉफ्टवेर मिल जायेंगे जैसे
1. Cyberduck
2. Filezilla
3. FireFTP
4. WinSCP
5. Transmit

Conclusion

दोस्तों हम रोज इन शब्दों को सुनते है लेकिन हम अगर इनको जानना चाहते है की Server क्या होता है
(What is Server in Hindi) और कैसे काम करता है तो आप इस पोस्ट से माध्यम से अच्छे से जान
सकते है.इस पोस्ट में हमने आपको ये बताया है की सर्वर क्या होता है और कितने प्रकार के होते है. दोस्तों
हम बहुत महेंगे महेंगे कोर्स करते है लेकिन हमें ये सब वहां नही सिखाते है इसलिए आपके जितने भी फ्रेंड्स है
उन सबको ये पोस्ट शेयर कीजिये ताकि सबको पता चल सके. मुझे पूरी उम्मीद है की आपको समझ आ गया
होगा की सर्वर क्या होते है.

अगर आपका कोई सवाल है तो कमेंट करके पूछ सकते है. हम मिलते है अगली पोस्ट में आपका पोस्ट पढने
के लिए बहुत बहुत धन्यवाद्.

Hello friends, I am "Rahul" Author & Founder of TechySeizer.in. If I Talking about my education I am in BSC 3rd year. I love knowing things related to technology and teaching others. Just keep supporting our content, we will keep giving you new information :)