FDD Full Form In Hindi | FDD Kya hai?

दोस्तों अगर आपको नहीं पता की FDD Full Form In Hindi क्या हैं और आखिर FDD
kya hai
तो आज आपको यह आर्टिकल बहुत ध्यान से पढ़ना चाहिए।

अगर आप कंप्यूटर के बारे के बात करें तो स्टोरेज एक बहुत जरूरी हिस्सा है जिसके बिना कंप्यूटर
चालू करना ही मुश्किल हैं बिना स्टोरेज के हम कंप्यूटर में ऑपरेटिंग सिस्टम नहीं डाल सकते।

इसलिए पहले से ही स्टोरेज का इतना महत्व हैं दोस्तों आज FDD Full Form In Hindi
आर्टिकल में आपको FDD से जुड़ी लगभग सभी बातें जानने को मिलेगी जो आपके बेहद काम आने वाली हैं।

स्टोरेज के लिए HDD का भी उपयोग होता है जो FDD से कई गुना बेहतर और फास्ट हैं। उम्मीद हैं
FDD Full Form In Hindi आर्टिकल आपको पसंद आएगा।

FDD Full Form In Hindi

इस FDD का फुल फॉर्म “Floppy Disk drive” होता हैं जिसे शॉर्ट के FD या FDD भी कहते हैं, यह एक स्टोरेज डिवाइस हैं जिसका इस्तेमाल कंप्यूटर में जरूरी फाइल स्टोर करने के लिए किया जाता हैं।

FDD क्या है?

फ्लॉपी डिस्क ड्राइव ही वह उपकरण हैं जिसमे शुरुवाती समय में डेटा सेव करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था समय के साथ इसमें धीरे धीरे बदलाव होते गए जिससे इसकी स्टोरेज और स्पीड में भी फर्क पड़ा।

ECG Full Form In Hindi | ECG Kya hota hai?

फ्लॉपी डिस्क ड्राइव एक हार्डवेयर डिवाइस हैं जो स्टोरेज को रीड करता है। इसे सन 1967 में IBM के द्वारा इंवेंटेड किया गया था।

यह सबसे पहला स्टोरेज डिवाइस था जिसे डेटा और फाइल स्टोर करने के लिए इस्तेमाल किया
जाता था, फ्लॉपी डिस्क अब आउटडेटेड है तथा इनकी जगह अब USB डिवाइस जैसे उपकरणों ने ले ली ही।

FDD का इतिहास?

सबसे पहली फ्लॉपी डिस्क को सन 1967 में IBM द्वारा ALAN SHUGART ने इंवेंट किया था, इस फ्लॉपी डिस्क का साइज 8 इंच का था और इसे बाद में “diskette” के नाम से जाना गया।

फ्लॉपी डिस्क को IBM के पर्सनल कंप्यूटर में अगस्त 1981 में इस्तेमाल किया गया था उस समय 5.25 फ्लॉपी डिस्क की कपैसिटी 360KB होती थी।

बाद में इसका नाम बदलकर फ्लॉपी कर दिया गया, 1980 आते आते इसकी डिजाइन तथा कैपेसिटी में
बदलाव हुआ। शुरुवाती समय में कंप्यूटर में 3.5 इंच और 5.25 इंच दोनो साइज की फ्लॉपी डिस्क का इस्तेमाल होता था।

फ्लॉपी डिस्क के मेजर पार्ट्स

आज के समय में फ्लॉपी डिस्क लगभग पूरी तरह से आउटडेटेड टेक्नोलॉजी हो चुकी है इसलिए इसके बारे में ज्यादातर लोग नहीं जानते हैं।

लेकिन FDD Full Form In Hindi | FDD Kya hai? इसके बाद अब आपको फ्लॉपी डिस्क के अंदर कौन कौन से पार्ट्स होते है यह भी जरूर जानना चाहिए।

(A) Read/Write Heads

यह फ्लॉपी या diskette के दोनो तरफ मौजूद होता हैं जो एक ही दिशा में घूमते है और डेटा को
जल्दी रीड किया जाता है।

एक बार राइट होने के बाद इसका दूसरी तरफ का हेड उस डेटा को रिमूव करने का काम करता है
ताकि दूसरा डेटा जल्द से जल्द राइट किया जा सके।

(B) Drive Motor

यह फ्लॉपी डिस्क के सेंटर में लगी होती है ताकि डिस्क को सही तरीके से घूमने में मदद मिल सके,
यह 300 से 360 चक्कर लगाती है हर एक मिनट में।

(C) Stepper Motor

यह मोटर read/write assembly को सही ट्रैक में रखने के लिए इस्तेमाल की जाती है। इस मोटर की मदद से रीड/राइट असेंबली को घूमने में स्पीड मिलती है,

जिससे यह बहुत तेज घूमती है डेटा को बहुत जल्दी रीड और राइट कर पाती हैं।

(D) Mechanical Frame

फ्लॉपी डिस्क के दोनो तरफ से डेटा रीड/राइट करने के लिए जरूरी हैं की डिस्क मशीन से टच हो जिसकी मदद से इसको घूमने में आसानी हो।

यह करने के लिए इस mechanical frame का इस्तेमाल किया जाता हैं और इसके ही साथ इसमें
बटन दिया जाता हैं जो डिस्क को बाहर तथा अंदर लाने और ले जाने मे मदद करता हैं।

(E) Circuit Board

डिस्क को घूमने या डेटा रीड/राइट के लिए जितने भी electronics उपकरणों की जरूरत होती है यह इसमें मौजूद होता हैं।

इसकी वजह से फ्लॉपी डिस्क को जरूरी इलेक्ट्रिक मिलती है तथा वह घूमती है।

FDD से जुड़े कुछ फैक्ट

FDD Full Form In Hindi | FDD Kya hai? इसके बाद अब जानते है फ्लॉपी डिस्क से जुड़े कुछ मजेदार फैक्ट के बारे में।

1. अगर हम दो फ्लॉपी डिस्क को एक साथ स्टोर करते है तो वह करप्ट नहीं होती है और यह ज्यादातर लोगों को पता ही नहीं है।

2. कंप्यूटर अंदर फ्लॉपी डिस्क डेटा रिबन केबल में कुछ twist होते हैं जो कंप्यूटर को यह बताते है की
इसमें फ्लॉपी डिस्क A या फिर फ्लॉपी डिस्क B लगी हुई हैं।

3. कई इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की तरह यह भी ज्यादातर रिपेयर नहीं होते है और अगर इसकी
जरूरत भी होती है तो न्यू डिस्क लेना रिपेयर करने से ज्यादा सस्ता पड़ता है।

4. न्यू डिस्क लगाने पर कंप्यूटर से F5 दबाने से डेटा फिर से डिस्प्ले हो जाता हैं।

फ्लॉपी डिस्क ड्राइव की Capacity

FDD का फुल फॉर्म के बाद अब आपको बताते हैं की समय के साथ इसकी कैपेसिटी में कैसे बदलाव हुआ और क्या क्या चेंजेज आए।

(https://kids.kiddle.co/Floppy_disk)

निष्कर्ष

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से मैंने आपको बताया की FDD Full Form In Hindi | FDD Kya hai? उम्मीद हैं आज की पोस्ट से आपको कुछ नया सीखने को जरूर मिला होगा।

ज्यादातर लोगों को आज भी फ्लॉपी डिस्क के बारे में नहीं पता इसलिए हमने सोचा कि FDD Full Form In Hindi | FDD Kya hai? इसके बारे में आपको जरूर बताना चाहिए।

Hello friends, I am "Rahul" Author & Founder of TechySeizer.in. If I Talking about my education I am in BSC 3rd year. I love knowing things related to technology and teaching others. Just keep supporting our content, we will keep giving you new information :)

Sharing Is Love:

Leave a Comment